Home एंटरटेनमेंट आदित्य धर के साथ आदित्य सुहास अपनी तीसरी फिल्म भी करने वाले...

आदित्य धर के साथ आदित्य सुहास अपनी तीसरी फिल्म भी करने वाले हैं।

21

आदित्य धर के साथ आदित्य सुहास अपनी तीसरी फिल्म भी करने वाले हैं। वह बताते हैं, ‘फिलहाल इस एक्शन थ्रिलर फिल्म की स्क्रिप्ट पर काम चल रहा है। फिल्म गोवा पर आधारित होगी। दो महीने में स्क्रिप्ट फाइनल होगी, तो शूटिंग शुरू करेंगे। आदित्य के साथ संबंध अच्छे हैं। मैं रिश्ते लंबे समय के लिए बनाता हूं।’आर्टिकल 370 की निर्माता-निर्देशक जोड़ी आदित्य धर और आदित्य सुहास जांभले ने आर्टिकल 370 से पहले बारामुला फिल्म पर काम शुरू किया था।  पहले बनकर तैयार आर्टिकल 370 हो गई। अब मेकर्स बारमुला को लेकर आना चाहते हैं जिसके लिए दोनों ने पूरी तैयारी भी कर ली है। आर्टिकल 370 की तरह इस फिल्म की कहानी भी कश्मीर पर अधारित है लेकिन हॉरर है।कई बार फिल्म बनकर तैयार होती है, लेकिन रिलीज नहीं हो पाती। ऐसा ही कुछ हुआ फिल्म बारामुला के साथ। आर्टिकल 370 की निर्माता-निर्देशक जोड़ी आदित्य धर और आदित्य सुहास जांभले ने आर्टिकल 370 से पहले बारामुला फिल्म पर काम शुरू किया था। फिल्म शूट भी हो चुकी थी, लेकिन फिर आर्टिकल 370 की कहानी आई और वह पहले बनकर रिलीज हो गई। अब बारामुला की बारी है। फिल्म के निर्देशक आदित्य सुहास जांभले कहते हैं, ‘एक दो महीने में हम कश्मीर की पृष्ठभूमि पर बनी इस सुपरनैचुरल फिल्म की रिलीज की घोषणा करेंगे। फिलहाल विजुअल इफेक्ट्स पर काम चल रहा है।’बारामुला बनाने को लेकर आदित्य सुहास बताते हैं, ‘यह फिल्म मैंने खुद लिखी है। बस एक ख्याल था कि क्या सुपरनैचुरल फिल्म को कश्मीर में बनाया जा रहा है। मैंने आदित्य धर से कहा था कि इस कहानी को मैं लिखूंगा। उन्होंने स्वीकृति दी। मैं फिर गोवा चला गया। छह महीने तक रिसर्च की, कश्मीरी लोगों से मिला । आदित्य को स्क्रिप्ट पसंद आई। हमने शूटिंग शुरू कर दी। बारामुला फिल्म को देखकर ही आर्टिकल 370 का आइडिया आदित्य धर के दिमाग में आया और उन्होंने मुझसे कहा कि आप उस फिल्म के लिए सही निर्देशक होंगे। मुझे भी राजनीति से जुड़ी चीजों में रिसर्च करने में दिलचस्पी है। मैंने कहा कि फिल्म कर लेता हूं। सात-आठ दिनों में बारामुला की शूटिंग खत्म कर आर्टिकल 370 की शूटिंग भी एक साल में खत्म कर दी। दोनों फिल्मों की टीम एक ही थी तो बारामूला पर काम धीमा हो गया था।’कश्मीर पर आधारित फिल्मों में आतंकवाद या वहां के मतभेद ही दिखाए जाते रहे हैं। ऐसे में इस फिल्म को सुपरनैचुरल बनाने को लेकर आदित्य कहते हैं, ‘जो चीज नहीं बनी होती है, मेरा वही करने का मन होता है। मुझे हॉरर फिल्म बनाने का ऑफर आया था। मुझे इस जॉनर को भी अलग बनाना था। मैंने उसमें कश्मीर और सुपरनैचुरल को मिला दिया। बारामूला फिल्म में दर्शक डरेंगे, लेकिन जब फिल्म खत्म होगी, वह रोते-रोते थिएटर से बाहर निकलेंगे। कश्मीर में जब शाम होती है, तो वह डरावना-सा लगता है  मुझे लगा वहां सुपरनैचुरल कहानी को बनाना बेहतरीन होगा। अब तक वहां फैले आतंकवाद की कहानियां दिखाई जाती रही हैं। बारामूला उस जगह को लेकर दर्शकों को नया नजरिया देगा। हमने माइनस 18 डिग्री में फिल्म की शूटिंग की है। 24 दिन में एक्शन, हॉरर, थ्रिलर हर तरह के शॉट के साथ फिल्म की शूटिंग खत्म हो गई थी।’फिल्म में मानव कौल डीएसपी की भूमिका में होंगे। इस रोल में मानव को लेने का कारण बताते हुए आदित्य कहते हैं, ‘हमें कोई ऐसा कलाकार चाहिए था, जो कश्मीर से हो। वह केवल उसे एक रोल की तरह न देखे। मानव को थिएटर करते हुए देखा था। हमें उनकी क्षमता पर भरोसा था। वह स्क्रीन पर अच्छे लगते हैं और खुद भी कश्मीरी हैं। कई नाम सोचने के बाद लगा की मानव ही इस रोल के लिए सही होंगे फिल्म के निर्देशक आदित्य सुहास जांभले कहते हैं, ‘एक दो महीने में हम कश्मीर की पृष्ठभूमि पर बनी इस सुपरनैचुरल फिल्म की रिलीज की घोषणा करेंगे। फिलहाल विजुअल इफेक्ट्स पर काम चल रहा है