Home उत्तराखंड गंगा चालीसा का पाठ बहुत अच्छा माना जाता है।

गंगा चालीसा का पाठ बहुत अच्छा माना जाता है।

10

गंगा नदी भारत की सबसे पवित्र नदी मानी जाती है। उनकी पूजा से जीवन का हर कष्ट समाप्त हो जाता है। गंगा सप्तमी पर मां गंगा की पूजा होती है। इस साल गंगा सप्तमी 14 मई, 2024 को मनाई जाएगी। ऐसे में सुबह के समय गंगा नदी में पवित्र स्नान करें।
इसके बाद देवी गंगा को फूल, माला, अक्षत, आदि अर्पित करें। फिर वहीं खड़े होकर मां गंगा की चालीसा का पाठ करें  और आरती करें। इससे जीवन में किए गए सभी पापों का नाश होता है। विधि से पाठ करें गंगा चालीसा का  सभी दुखों का नाश होगा
हिंदू धर्म में गंगा सप्तमी (Ganga Saptami 2024) का दिन बेहद महत्व रखता है। इस दिन देवी गंगा की पूजा का विधान है। पंचांग के अनुसार यह त्योहार वैशाख महीने के शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को मनाया जाता है। इस साल यह पर्व 14 मई को मनाया जाएगा। वहीं इस दिन गंगा चालीसा का पाठ भी बहुत अच्छा माना जाता है।