Home उत्तराखंड वन्य जीव जंतुओं की अवैध तस्करी में लिप्त तस्करों की अवैध गतिविधियों...

वन्य जीव जंतुओं की अवैध तस्करी में लिप्त तस्करों की अवैध गतिविधियों की रोकथाम हेतु वन विभाग तथा चमोली पुलिस द्वारा लगातार तस्करों की धरपकड़

21

बद्रीनाथ वन प्रभाग गोपेश्वर , चमोली पुलिस व एसटीएफ कुमाऊं रेंज ने संयुक्त कार्यवाही में भालू की दुर्लभ पित्त के साथ दो अभियुक्तों को किया गिरफ्तार किया गया

पुलिस तथा वन विभाग की संयुक्त कार्यवाही में भालू ( वाइल्डलाइफ प्रोटेक्शन एक्ट के तहत शेड्यूल वन में संरक्षित जीव) की दुर्लभ 460 ग्राम पित्त बरामद की गई ।
थराली।
प्रभागीय वनाधिकारी बद्रीनाथ वन प्रभाग सर्वेश कुमार दुबे के निर्देशानुसार वन्य जीव जंतुओं की अवैध तस्करी में लिप्त तस्करों की अवैध गतिविधियों की रोकथाम हेतु वन विभाग तथा चमोली पुलिस द्वारा लगातार तस्करों की धरपकड़ की जा रही है। बृहस्पतिवार को को पूर्वी पिंडर रेंज देवाल तथा थाना थराली पुलिस द्वारा एसटीएफ कुमाऊं रेंज की टीम के साथ संयुक्त रुप से कार्यवाही कर हॉस्पिटल तिराहा देवाल के पास से दो वन्य जीव तस्कर बलवन्त सिंह बिष्ट पुत्र हिम्मत सिंह निवासी ग्राम वाण थाना थराली उम्र 55 वर्ष व मेहरबान सिंह बिष्ट पुत्र चन्द्र सिंह निवासी कुलिंग थाना थराली उम्र- 66 वर्ष को गिरफ्तार किया गया जिनके कब्जे से क्रमश 284 ग्राम व 176 ग्राम भालू की पित्त बरामद की गयी। जिसकी अनुमानित कीमत 20 लाख रुपए है। अभियुक्तों के विरुद्ध थाना थराली में मु0अ0सं0 – 19/2024, वन्य जीव (संरक्षण) अधिनियम,1972 धारा 2/9/50/51 के अंतर्गत पंजीकृत किया गया है।
छापेमारी टीम में
उ0नि0 विनोद सिंह
,प्रदीप सिंह वन बीट अधिकारी वाण,केदार दत्त पुरोहित वन दरोगा लोहाजग,,का0 ना0पु0 कृष्णा भंडारी,रि0कां0 प्रफ्फुल नौटियाल,निरीक्षक पावन स्वरुप एसटीएफ/एएनटीएफ कुमाऊं रेंज,उ0नि0 विपिन जोशी,एसटीएफ/एएनटीएफ कुमाऊं रेंज,वाइल्ड लाइफ क्राइम कंट्रोल ब्यूरो मौजूद थे।