Home Breaking News सफाई कर्मचारियों की आज अपनी मांगों को लेकर दुबारा हुई बैठक

सफाई कर्मचारियों की आज अपनी मांगों को लेकर दुबारा हुई बैठक

45

घर घर से कूड़ा उठाने वाली कम्पनी वॉटरग्रेस के सुपरवाइजर, ड्राइवर व हेल्पर 18 फरवरी से हड़ताल पर थे। कम्पनी कर्मचारियों का उत्पिडन करते हुए समय से वेतन नही दे रही थी व छोटी छोटी गलतियों पर नोटिस देकर ड्राइवर व सुपरवाइजरो को काम से निकाल रही थी। जिसके कारण कर्मचारियों में रोष था। कर्मियों ने उनकी बात न सुने जाने पर 18 व 19 जनवरी को कूड़ा उठाने वाले वाहनो को रोककर घरों से कुडा नही उठाया जिसके कारण वार्डो में गंदगी के अंबार लग गए। पीड़ित आउट सोर्स सुपरवाइजर, ड्राइवर व हेल्परों ने अखिल भारतीय सफाई मज़दूर संघ उत्तराखंड शाखा के प्रभारी विशाल बिरला से सहायता मांगी।
उक्त शोषण का संज्ञान लेकर, विशाल बिरला ने नगर आयुक्त श्री गौरव कुमार व स्वास्थ अधिकारी श्री अविनास खन्ना से फोन पर वार्ता कर समस्या के निराकरण की अपील की। तथा वाटरग्रेस कंपनी के प्रोजेक्ट हेड किशन गोपाल जी से भी पीड़ित आउट सोर्स कर्मचारियों के मांग पत्र पर कार्यवाही का आग्रह करते हुए चेतावनी दी की यदी निर्दोष कर्मियों को कार्य से निकाला गया तो वृहद आंदोलन/हड़ताल की जवाबदेही कंपनी को लेनी होगी।
वॉटरग्रेस कम्पनी ने मामले की गंभीरता को समझते हुए, वार्ता के माध्यम से मामले को सुलझाये जाने का निर्णय लेते हुए सुपर वाइजर व ड्राइवर को जारी किये गये समस्त नोटिस निष्क्रिय कर दिये व समय से वेतन देने का भी आश्वासन दिया।
विशाल बिरला प्रभारी उत्तराखंड ने प्रश्न उठाया की बिना नियमावली बनाये आप कैसे एक ड्राइवर से 1500 किलो कूड़ा माँग रहे है कैसे वह ड्यूटी टाइम में सभी मानक पुरे करते हुए कूड़ा कलेक्सन करेगा? जिस घर से 2 किलो कूडा न निकलता हो क्या आप उसे भी नोटिस देंगे या सिर्फ गरीब ड्राइवर व सुपरवाइजर पर ही गाज गिरेगी?
वॉटर ग्रेस कंपनी के प्रोजेक्ट हेड ने SOP तैयार कर कर्मचारियों को सभी सुविधाएं देने की सहमति दी है। इसी आधार पर 20 फरवरी से हड़ताल समाप्त कर कार्य शुरू कर दिया गया है।
उक्त SOP में कर्मचारियों के कार्य, परिचालन नियमावली, अधिकार तथा कर्तव्यों के सम्बन्धित निर्देश होंगे
उक्त सभी निर्देश श्रम अधिनियमों के अंतर्गत, देहरादून नगर निगम द्वारा जारी निविदा शर्तों, सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट रूल्स व कंपनी की वेल्फेयर पालिसी के अनुरूप दोनों पक्षों की सहमति से जारी किये जायेंगे।
वार्ता में श्रमिक प्रतिनिधि के रूप मे विशाल बिरला प्रभारी उत्तराखंड अखिल भारतीय सफाई मज़दूर संघ, दीपक पँवार, वरिष्ठ समाजसेवी, करन घाघट, सागर भारती, आकाश, निक्कू, सूरज आदि तथा घर घर से कूड़ा उठाने वाली, वाटरग्रेस प्रा. ली. कंपनी की और से प्रोजेक्ट हेड किशन गोपाल व एच आर हेड विपिन उपस्थित रहे।