Home उत्तर प्रदेश 2014 से भाजपा का अलीगढ़ व हाथरस की सीट पर कब्जा

2014 से भाजपा का अलीगढ़ व हाथरस की सीट पर कब्जा

8

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सोमवार को नुमाइश मैदान में अलीगढ़ और हाथरस लोकसभा सीट के प्रत्याशियों के समर्थन में चुनावी जन सभा संबोधित करने पहुंचे। पीएम मोदी का अलीगढ़ में ताला और चाबी देकर स्वागत किया गया। पीएम मोदी का स्वागत करने के लिए यूपी सीएम योगी अलीगढ़ पहुंचे हैं। सीएम योगी ने मंच से विपक्ष पर हुंकार भरी। पहले चरण के चुनाव पर कहा कि विपक्षी का खाता भी नहीं खुलने जा रहा है।
एक बार फिर पीएम मोदी ने अलीगढ़ में रैली की। 2014 से भाजपा का अलीगढ़ व हाथरस की सीट पर कब्जा है। दोनों चुनाव में पार्टी ने शानदार जीत हासिल की। 2019 के चुनाव में भाजपा प्रत्याशी सतीश गौतम ने बसपा प्रत्याशी अजीत बालियान को 2.29 लाख वोटों से हराया था।पीएम मोदी ने मंच से राधे राधे कर जनता का अभिवादन किया। पीएम ने कहा कि मैं पहले भी अलीगढ़ आया हूं पिछली बार सबसे अनुरोध किया था। कि सपा कांग्रेस के परिवार भ्र्स्टचार पर ताला लगा दीजिए।

पीएम मोदी ने कहा कि, आज मैं अलीगढ़ की जनता को हाथरस के भाइयों−बहनों को यही प्रार्थना करने आया हूं। अच्छे भविष्य कि चाबी भी जनता पर है। अब देश को गरीबी से मुक्त करने का समय आ गया है। अब देश को भ्रष्टाचार से पूरी तरह मुक्त कराने का समय आ गया है। अब देश को परिवारवादी राजनीति से मुक्त कराने का समय आ गया है।योगीजी ने यूपी में बदलाव कर दिया

पीएम मोदी ने कहा, जो पहली बार वोट डाल रहे हैं, उन्हें याद नहीं होगा। तब वह आठ साल के होंगे। पहले टीवी पर विज्ञापन आता था कि कहीं कुछ लावारिस चीज मिले तो उसके पास मत जाना, कोई बैग मत उठाना, बस स्टैंड रेलवे स्टेशन पर यही हाल था। लावारिस चीजों में बम होते थे। अब योगी के कमाल से सब बंद हो गया। अब शांति हो गई है। अब विकास हो रहा है। पहले फौजियों पर पत्थर चलाते थे, अब फुल स्टॉप लग गया। पहले अलीगढ में आए दिन कर्फ्यू लगता था। पहले फ़ोन कर पूछते थे कि शांति है ना। यह योगी जी ने करके दिया है । दंगे हत्या गैंगवार फिरौती, यह सपा सरकार का ट्रेड मार्क था। उनकी  राजनीति इसी से चलती थी। पहले हमारी बहन बेटियां घर से नहीं निकल पाती थीं। पीएम मोदी ने कहा कि, सपा कांग्रेस ने हमेशा तुष्टीकरण की राजनीति की। मुस्लिमों के लिए कुछ नहीं किया।  तीन तलाक से जुड़ी बेटियों का जीवन बर्बाद हो गया था।  बेटी ही नहीं , पूरा परिवार परेशान रहता था। मोदी ने तीन तलाक कानून बनाकर इनका परिवार सुरक्षित किया है।