Home Breaking News बड़ी खबर : आदमखोर गुलदार ने बुजुर्ग को बनाया निवाला, जखोली के...

बड़ी खबर : आदमखोर गुलदार ने बुजुर्ग को बनाया निवाला, जखोली के ग्रामीण इलाकों में बनी दहशत

801
  • आदमखोर गुलदार ने वृद्ध व्यक्ति को बनाया अपना निवाला
  • विकासखंड जखोली के कुरछोला गांव की घटना
  • ग्रामीण इलाकों में बनी है दहशत

रुद्रप्रयाग। विकासखंड जखोली (Block Jakholi) के कुरछोला गांव निवासी एक 80 वर्षीय वृद्ध व्यक्ति को आदमखोर गुलदार ने अपना निवाला बना दिया। आज शाम को पोस्टमार्टम (Postmortem) के बाद उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया। 

जानकारी के मुताबिक, कुरछोला गांव के कृपाल सिंह पंवार पिछले माह की 19 तारीख से लापता चल रहे थे। जगह-जगह खोजबीन के बावजूद उनका कहीं पता नहीं चल पाया। जखनोली के जंगल में घास लेने गई महिलाओं ने उनका शव देखा तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। शव का अधिकांश हिस्सा आदमखोर गुलदार (Man Eater leopard)  खा चुका था। शव का सिर्फ एक चौथाई हिस्सा ही बचा था। महिलाओं ने इसकी सूचना अन्य लोगों को दी। इसके बाद पुलिस और वन विभाग की टीम मौके पर पहुँची। शव को कब्जे में लेने के बाद पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय भेजा गया। स्थानीय निवासी दीपक रावत का कहना है कि इस घटना के बाद से गांव में दहशत बनी हुई है।

गर्लफ्रैंड के घर जाकर पूर्व महासंघ उपाध्यक्ष ने की आत्महत्या 

वहीं उत्तराखंड क्रांति दल (UKD) के युवा नेता मोहित डिमरी(Mohit Dimri) ने इन घटना पर गहरा दुःख प्रकट करते हुए वन विभाग (Forest Department) को जल्द से जल्द पीड़ित परिवार को मुआवजा देने को कहा। उन्होंने कहा कि गुलदार कभी भी दूसरी घटना को अंजाम दे सकता है। इससे पहले कि कोई अनहोनी हो, वन विभाग को पिंजड़ा लगाकर आदमखोर गुलदार को पकड़ना चाहिए। मोहित डिमरी ने कहा कि महिलाएं घास लेने जंगल जाते समय सावधानी बरतें। अकेले कोई भी महिला जंगल न जाएं। महिलाएं यह कोशिश करें कि ज्यादा दूर जाने के बजाय गांव के आसपास ही घास काटें। कम से कम 10-12 महिलाएं एक साथ जंगल जाएं। बच्चों को शाम और सुबह के समय घर के अंदर ही रखें। उन्होंने कहा कि कुरछोला, जखनोली सहित आसपास के ग्रामीण सजग रहें। वहीं उप वन संरक्षक वैभव कुमार का कहना है कि अभी यह स्पष्ट नहीं कहा जा सकता है कि गुलदार ने ही घटना को अंजाम दिया होगा। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट जानकारी दी जा सकती है।