Home उत्तराखंड कोविड के नए वैरिएंट JN.1 से बचना है तो मान लें डॉक्टर्स...

कोविड के नए वैरिएंट JN.1 से बचना है तो मान लें डॉक्टर्स की सलाह, जान लें लक्षण और बरतें ये सावधानी

31

कोविड-19 के नए वैरिएंट ने लोगों के मन में एक बार फिर डर पैदा कर दिया है। नए सब-वैरिएंट का नाम जेएन.1 है, जो भारत में भी फैल रहा है। केंद्र सरकार ने नए वैरिएंट को लेकर अलर्ट जारी किया है। अगर बचना है तो जान लें लक्षण और बरत लें ये सावधानी।
कोरोना का नया वैरिएंट जेएन.1 एक बार फिर लोगों को डराने लगा है। पिछले 24 घंटे 350 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। केरल में जेएन.1 से सबसे ज्यादा प्रभावित हो रहे हैं। वहीं सरकार ने नए सब वैरिएंट जेएन.1 को लेकर लोगों को अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं। नए वैरिएंट जेएन.1 के सबसे ज्यादा मामले केरल, गोवा और महाराष्ट्र में सामने आ रहे हैं। सरकार की ओर से लोगों को अलर्ट रहने की सलाह दी गई है। हालांकि घबराने की जरूरत नहीं है। आपको कुछ बातों का ख्याल रखना है सावधानी बरतनी है। जान लें कोरोना के नए वैरिएंट जेएन.1 के लक्षण और इससे बचने के लिए क्या सावधानी बरतें।
कोविड वैरिएंट JN.1 के लक्षण
बुखार आना
थकान महसूस होना
नाक बहना
गले में खराश
सिर में दर्द रहना
खांसी और कंजेशन
कुछ लोगों को स्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्या हो रही है
जेएन.1 वैरिएंट से कैसे बचें
कोरोना वायरस से बचने के लिए डॉक्टर्स लोगों को मास्क पहनने, भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचने और हेल्दी डाइट लेने की सलाह दे रहे हैं। जेएन.1 वैरिएंट को लेकर भी आपको इन्‍हीं बातों का ख्याल रखना है। इसके अलावा ये जरूरी बातें जिनका पालन करने से कोविड के खतरे को काफी कम किया जा सकता है।
हाथों को अच्छी तरह साफ करें- कोरोना से बचना है तो हाथों को साफ रखना जरूरी है। इससे आप इंफेक्शन के खतरे को काफी हद तक कम कर सकते हैं। आपको कम से कम 20 सेकेंड तक हाथों को साबुन और पानी से अच्छी तरह से साफ करना है।
सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें- कोरोना को दूर रखना है तो हाथों को समय-समय पर सैनिटाइजर करते रहें। इसके लिए आपको कम से कम 60 फीसदी अल्कोहल वाले हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना है। हाथों को नाक और मुंह के कॉन्टेक्ट में आने से बचें।
सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन करें- कोरोना से बचने के लिए सबसे अच्छा तरीका है सोशल जिस्टेंसिंग का पालन करें। इसके लिए भीड़ वाली जगहों पर जाने से बचें। लोगों से दूर बनाकर रखें। अगर इन बातों का ख्याल रखते हैं तो कोरोना के नए वैरिएंट JN.1 के खतरे से बच सकते हैं।