Home देश 90 फ़ीसदी मुस्लिम आबादी वाले इस देश के, ज्यादातर लोग हैं ‘रामभक्त’

90 फ़ीसदी मुस्लिम आबादी वाले इस देश के, ज्यादातर लोग हैं ‘रामभक्त’

38

Hindu Temple In Indonesia: ASEAN सम्मेलन की वजह से इन दिनों इंडोनेशिया काफी सुर्खियों में है। इंडोनेशिया मुस्लिम देश होने के बावजूद अक्सर हिंदू नाम व हिंदू मंदिरों की वजह से खबरों में रहता है, कि आख़िर 87 फीसदी से अधिक मुस्लिम धर्म को मानने वाले लोगों के बीच अमूमन जगहों पर राम और शिव के मंदिर कैसे
इंडोनेशिया के जकार्ता में हो रहे आसियान (ASEAN) समिट की वजह से इंडोनेशिया की चर्चा हो रही है। दरअसल, G20 की तैयारियों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार 7 सितंबर को आसियान (ASEAN) समिट के लिए इंडोनेशिया के जकार्ता पहुंचे। जहां इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर प्रधानमंत्री का इंडोनेशिया में औपचारिक स्वागत किया गया और सम्मेलन को संबोधित करते हुए पीएम ने ‘वन अर्थ, वन फैमिली, वन फ्यूचर’ की बात पर जोर दिया।

लेकिन इस बीच इंडोनेशिया में सबसे अधिक मुस्लिम आबादी होने के बावजूद भी वहां राम और शिव को समर्पित मंदिरों को लेकर चर्चा हो रही है। बता दें, इंडोनेशिया एक मुस्लिम बहुल देश है, लेकिन वहां हिंदू धर्म से जुड़ी कई ऐसी चीजे हैं, जो इंडोनेशिया को अपनी ओर आकर्षित करता है।
इंडोनेशिया की मुस्लिम और हिंदू आबादी
इंडोनेशिया को मुस्लिम देश इसलिए कहा जाता है, क्योंकि यहां की करीब 87-88 फीसदी आबादी मुस्लिम है। दुनियाभर के मुसलमानों का एक बड़ा वर्ग इंडोनेशिया में ही रहता है। लेकिन, यहां हिंदू धर्म का भी काफी प्रभाव है, जबकि उनकी संख्या काफी कम है। हिंदू धर्म का प्रभाव इतना है कि लोग यहां हिंदू-देवी देवताओं को मानते हैं और मुस्लिम हिंदू नाम रखना पसंद करते हैं। दुनिया का तीसरा सबसे बड़ी मुस्लिम आबादी वाला देश होने के बावजूद भी यहां हिंदू धर्म को मान्यता दी जाती है। साल 2018, की जनगणना के अनुसार देश में साढ़े 46 लाख से ज्यादा हिंदू रहते हैं, जबकि 2010 में ये करीब 40 लाख थे।
Hindu Temple In Indonesia: इंडोनेशिया में कितने हिंदू मंदिर हैं
इंडोनेशिया की हिंदू आबादी पर दक्षिण का असर दिखता है, खासकर यहां के मंदिर उसी तर्ज पर बने हुए हैं। माना जाता है कि, करीबन हजार से लेकर डेढ़ हजार तक मंदिर यहां बने हुए हैं। इनमें बाली और सुमात्रा में सबसे ज्यादा हिंदू मंदिर हैं।
इस देश में रामायण और महाभारत काफी लोकप्रिय है। इंडोनेशिया में आज भी हिंदू धार्मिक पुस्तकों का काफी महत्व है। वहीं खास बात ये है कि इस देश में 70 के दशक से रामायण पर आधारित नृत्य नाटक का मंचन आज भी चल रहा है, जो और कहीं नहीं होता। साथ ही यहां के लोग भगवान राम, शिव समेत कई हिंदू देवताओं को पूजते हैं।