Home उत्तर प्रदेश मस्जिद में नकाबपोश बदमाशों ने की मौलाना की हत्या

मस्जिद में नकाबपोश बदमाशों ने की मौलाना की हत्या

9

अजमेर। अजमेर के कंचन नगर की मोहम्मदी मस्जिद में शुक्रवार देर रात करीब 2 बजे तीन नकाबपोश बदमाशों ने मौलाना की हत्या कर दी। घटना के समय मस्जिद में 6 नाबालिग भी थे। बदमाशों ने बच्चों को धमकाते हुए कहा कि यदि चिल्लाए तो तुम्हें भी जान से मार देंगे। इसके बाद उन्हें कमरे से बाहर निकाल दिया। हत्या की घटना से इलाके में सनसनी फैल गई। घटना की जानकारी देते हुए रामगंज थानाधिकारी रविंद्र खींची ने बताया कि शहर के रामगंज थाना में कंचन नगर स्थित मोहम्मदी मदीना मस्जिद में मौलाना मोहम्मद माहिर (30) और इनके साथ कुछ बच्चे भी रह रहे थे। रात करीब तीन बजे जब बच्चे चिल्लाते हुए बाहर आए तो आसपास के लोगों को घटना की जानकारी मिली। इसके बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी। थानाधिकारी ने बताया कि तीनों बदमाश मस्जिद के पीछे बने एक रास्ते से अंदर घुसे थे और मौलाना की हत्या कर उसी रास्ते से फरार हो गए। उन्होंने बताया कि मौके पर तलाशी के दौरान मौलाना का मोबाइल भी नहीं मिला। संभवत: बच्चे किसी को फोन न कर दें, इसके लिए वे मोबाइल भी साथ ले गए होंगे। मस्जिद के पीछे एक बाड़ा बना हुआ है, जहां से दो डंडे बरामद हुए हैं। इसके साथ ही आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं। डॉग स्क्वॉयड की टीम को भी मौके पर बुलाया गया है। बहरहाल हत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है। मस्जिद में रहने वाले एक बच्चे कासिम ने बताया कि रात को मौलाना माहिर और सभी बच्चे कमरे में सो रहे थे कि अचानक से लाठियां लेकर तीन बदमाश कमरे में घुसे। तीनों ने अपना चेहरा कपड़े से ढंका हुआ था। जागने पर बदमाशों ने सभी बच्चों को जान से मारने की धमकी देकर कमरे से बाहर निकाल दिया और इसके बाद डंडे से पीट-पीटकर मौलाना साहब की हत्या कर दी। इसके बाद बदमाश पीछे के रास्ते से फरार हो गए।
कासिम ने बताया कि जब बच्चे कमरे में गए तो मौलाना साहब बेसुध थे। इस पर हम चिल्लाते हुए बाहर आए और आसपास के लोगों को घटना की जानकारी दी। मुख्य मौलाना की हत्या की सूचना के बाद अजमेर दक्षिण पुलिस उपाध्यक्ष ओमप्रकाश भी मौके पर पहुंचे। अधिकारियों की सूचना पर एफएसएल टीम को भी बुलाया गया। बड़ी संख्या में मुस्लिम समाज के लोग भी मस्जिद पर पहुंचे। माहौल को देखते हुए पुलिस ने यहां अतिरिक्त फोर्स को तैनात किया है। समाज के लोगों ने पुलिस से जल्द कार्रवाई कर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की है।