Home Breaking News उत्तराखंड में हॉरर किलिंग :अलग समुदायों के युवक-युवती की हत्या से सनसनी,...

उत्तराखंड में हॉरर किलिंग :अलग समुदायों के युवक-युवती की हत्या से सनसनी, मौके पर भारी पुलिस बल

422

संदीप चौधरी 

हरिद्वार| रूड़की (Roorkee) के झबरेड़ा थाना क्षेत्र के मोलना गांव में गन्ने के खेत से एक युवक और युवती का शव बरामद हुआ है. मामला हॉरर किलिंग (Horror Killing) का बताया जा रहा है. युवक और युवती के अलग-अलग समुदायों से जुड़े होने के कारण इलाके में संवेदनशील स्थिति बनने की संभावना के चलते मौके पर एसएसपी हरिद्वार (SSP Haridwar) भारी पुलिस बल समेत मौके पर पहुंचे हुए हैं. साथ ही साथ फोरेंसिक विभाग (Forensic Department) की टीम भी पहुँच गयी है और जाँच में जुट गई है. दोनों शव क्षत विक्षत अवस्था मे है.

आपको बता दें कि मोलना गाँव की विवाहिता और युवक 24 जनवरी से गाँव से लापता थे. दोनों की तलाश में पुलिस (Police) और परिजन जुटे हुए थे. वहीं कल देर शाम उस समय हड़कम्प मच गया जब एक महिला का कटा हुआ पैर बरामद हुआ. लड़की के परिजनों ने गांव के ही युवक पर हत्या का आरोप लगाकर तहरीर देकर मुकदमा दर्ज करवाया था. वहीं युवक पक्ष की ओर से भी पुलिस को गुमशुदगी की तहरीर दी थी.  पुलिस द्वारा पैर बरामद होने के बाद शव के बाकी हिस्से की तलाश शुरू की गई तो गांव के एक गन्ने के खेत में आज लड़की और युवक दोनों का शव बरामद हुआ है. दोनों के शवों शत विक्षत हालत में मिले हैं. हालात देखकर लगता हैं कि शव पुराने हैं और जानवरों द्वारा खाये गए हैं.

क्या पहाड़ के ये गांव खाली हो जाएंगे ? प्रभावित परिवारों के पुनर्वास को मुख्यमंत्री ने दी हरी झंडी | UdayPrabhat

मृतक युवती और युवक दोनो एक ही गांव के हैं और युवती की शादी करीब चार माह पहले हुई थी. वहां से वह अपने मायके आ गयी थी और करीब 24 जनवरी को युवक और युवती दोनो फरार हो गए थे. अब दोनों के शव मिलने के बाद गांव में लोगों की भीड़ जमा हो गयी. किसी प्रकार का तनाव न हो इसके लिए पुलिस पूरी तरह अलर्ट हैं.

एसएसपी हरिद्वार डी सैंथिल अबुदई कृष्णराज एस ने बताया कि गन्ने के खेत में शव मिले हैं. अभी मौके पर जांच की जा रही है कुछ भी कह पाना मुश्किल है. जाँच के बाद पूरे मामले का खुलासा किया जाएगा. वहीं ग्राम प्रधान रामकुमार त्यागी ने बताया कि मृतक युवक उनके ही चाचा का लड़का है, जिसकी शिनाख्त उन्होने की है जिसका नाम अंकित है और ये 24 तारीख से लापता था साथ ही गांव की ही एक लड़की भी लापता थी और लड़की पक्ष के लोग उन्हें थाने में तहरीर नही देने दे रहे थे. साथ ही उन्होंने लडक़ी पक्ष के लोगों पर गुमराह करने का आरोप लगाया है और पुलिस से निष्पक्ष तौर जांच कर कार्रवाई की मांग की है.

क्या पहाड़ के ये गांव खाली हो जाएंगे ? प्रभावित परिवारों के पुनर्वास को मुख्यमंत्री ने दी हरी झंडी